पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है? (मई 2024 तक)

पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है?

आइये आज इस लेख में जानते है की पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है? जैसा की हमे पता है कि 15 अगस्त 1947 में भारत का दो हिस्सा हुआ था जिसका पहला भाग हिंदुस्तान और दूसरा भाग पाकिस्तान हुआ था इस बटवारा होने का मुख्य कारण मुसलमान थे जब भारत को अंग्रेज छोड़कर जाने लगे थे।

तब मुसलमानों ने भारत छोड़ने की प्रस्ताव रखी और अपना एक देश बनाने की मांग की इसके लिए हिन्दू और मुस्लिम में काफी दंगे हुए थे 1947 को बहुत से मुसलमान पाकिस्तान चले गए और कुछ भारत मे ही रह गए इस बटवारे से काफी लोग खुश थे तो काफी लोग दुखी भी थे।

जब भारत का बटवारा हुआ था तब पहले से ही पाकिस्तान में कुछ हिन्दू परिवार थे जो वही बस गए और वर्तमान में भी वही पर निवास करते है वर्तमान में पाकिस्तान की आबादी 20 करोड़ के बार है और उनमें हिंदुओ की काफी कम है।

आपको बता दे कि पाकिस्तान को दुनिया के सबसे आबादी वाले देशों में छठा स्थान पर है जिसमे मुसलमानों की जनसंख्या ज्यादा है और हिंदुओं की जनंसख्या कम है आज हम जानेंगे कि पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है? अगर आप भी जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें।

पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है?

इस वक्त पाकिस्तान में हिंदुओ कीआबादी दिन प्रतिदिन घट रही है इसका मुख्य कारण हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार के कारण पाकिस्तान में हिंदुओं के संख्या घटती जा रही है वर्तमान में पाकिस्तान की कुल जनंसख्या 20 करोड़ से ज्यादा है जो दुनिया का सबसे आबादी वाला देश मे 6 स्थान पर है।

पाकिस्तान में मुसलमानों की संख्या काफी तेजी से बढ़ती जा रही है आने वाली कुछ समय मे पाकिस्तान ज्यादा आबादी वाला देश मे गिना जाएगा। आपने कई बार टीवी, अखबार, समाचार में सुना होगा कि पाकिस्तान में हिंदुओं पर काफी अत्याचार होता है

आपके मन मे ये सवाल आ रहा होगा कि आखिर पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है? आपको बता दे कि वर्तमान समय मे पाकिस्तान में हिंदुओं की जनसख्या लगभग 25 लाख हो सकती है यानी अगर पूरे पकिस्तान के जनंसख्या में हिंदुओं की संख्या 2℅ से भी कम है।

जनगणना के समय मे पाकिस्तानी हिंदुओं की जाति (1.6%) और अनुसूचित जाति (0.25%) में विभाजित किया गया अगर सरल शब्दो मे बताये तो 2005 के अनुसार 45 लाख पाकिस्तानी मुस्लिम जनता पर 25 हिन्दू है (1.6-1.85% पाकिस्तान की जनसंख्या है।

हिंदुस्तान के विभाजन 15 अगस्त 1947 को हुआ था तब 44 लाख हिंदुओं और सिखों ने आज के भारत की और स्थानान्तरण किया उस समय भारत से 4.1 करोड़ मुसलमानों ने पाकिस्तान में रहने के लिये गए थे 1951 की जनगणना के मुताबिक पश्चिमी पाकिस्तान में 1.6% हिंदुओं की जनसख्या थी और पूर्वी पाकिस्तान यानी आधुनिक बांग्लादेश में 22.05% थी।

फिर 47 साल के बाद 1997 में पाकिस्तान में हिंदुओं की जनसंख्या में बृद्धि नही हुई जिसमे पश्चिमी पाकिस्तान में 1.6% हिन्दू थे और पूर्वी पाकिस्तान में जनंसख्या में काफी गिरावट आई यहां 10.2% ही हिन्दु ही बचे थे 1998 में हुए पाकिस्तान में जनगणना के मुताबिक पाकिस्तान में 2.5 लाख हिन्दू बचे है जो यह लिखित है ज्यादेतर हिन्दू पाकिस्तान के सिंध राज्य में बसे हुए है।

पाकिस्तान के किस क्षेत्र एवं राज्य में हिंदू आबादी ज्यादा है?

सिंध 7%,
थारकरकर जिला  35%,
मिथि 80%
बलूचिस्तान1।1%,
पंजाब में1।6%
खैबर पख्तुनख्वा 0।8%। 

पाकिस्तान में किस से धर्म के कितने लोग है?

पाकिस्तान में धर्म के नाम जनसंख्या (आबादी)
मुस्लिम22,16,75,370
हिंदू22,10,566
ईसाई18,73,348
अहमदी1,88,340
सिख74,130
भाई14,537
पारसी3,917
बौद्ध1,787
केलाशा धर्म1,522
अफ्रीकी धर्म1,418
नास्तिक1400
चीनी1,151
शिंटोवाद628
यहूदी628
जैन धर्म6

पाकिस्तान में रहने वाले हिंदुओ के बारे में 

1971 में हुई भारत और पाकिस्तान के साथ जंग के बाद यहां के ज्यादेतर हिन्दू परिवार अपना सबकुछ छोड़कर हिंदुस्तान चले गए पाकिस्तान में एक थार नामक जगह है यहां लोग कच्चे घरों में निवास करते है यहां पर ज्यादेतर लोगो का रोजगार पशु पालन और खेती से होती है।

थार का सबसे बड़ा गांव मठी है यहां हिंदू मुस्लिम सदियों से एक साथ रहते आये है और एक दूसरे के त्योहारों में शामिल होते आये है कारांझर में हिंदुओं का कई सारे पवित्र स्थल है जिसका संबंध महाभारत के कौरवों से बताया जाता है यहां पर कई सारे स्थानों पर वार्षिक मेले भी लगते है।

पाकिस्तान में होने वाले हिंदुओ पर अत्याचार

आप जानकर हैरान होंगे कि 47 साल बाद भी पाकिस्तान में हिन्दू उतना ही है जितना पहले थे ऐसे में इसके पीछे का वजह तो सभी जानते है हम आपको बता दे पाकिस्तान ज्यादेतर हिंदू सिंध प्रान्त में रहते है पाकिस्तान में कई वर्षों से हिन्दू क्रिशचन आदि कष्ट झेल रहे है और यह हाल 2014 में बेहद गैभीर हो गया था जहाँ पर उन्हें जबरजस्ती धर्म परिवर्तन करने के लिए कहाँ जाता था।

जब कोई नही मानता तो उनके साथ बतसलूकी करना शुरू कर दी गयी और महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया जाने लगा हिन्दू मंदिरों को तोड़ा जाने लगा इतना सब होने के बाद भी पाकिस्तान सरकार कुछ नही की थी जब पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दुओ से ये सब सहा नही गया।

तो वो हिंदुस्तान आने की फैसला किया वहां रहने वाले लोगो का कहना है कि स्कूलों में पढ़ने वाली लड़कियों के साथ यौन उत्पीड़न होता है और वहा कहना है कि हिन्दू छात्रों को भी कुरान पढ़ना अनिवार्य है इसी तरह से पाकिस्तान में हिन्दुओ पर अत्याचार किया जाता है।

पाकिस्तान और हिंदुस्तान तक जाने वाली रेलगाड़ी

पाकिस्तान में हो रहे हिंदुओ पर अत्याचार कर कारण तंग आकर साल 2006 से 2009 में 5000 परिवार plan करके वापस हिंदुस्तान आ चुके है वर्ष 2006 में एक रेलगाड़ी की शुरुआत हुई थी जिसका नाम R Xpress था यह ट्रेन पाकिस्तान के कराची से चलकर हिंदुस्तान के जोदपुर तक आती है।

इस ट्रेन के पहले ही वर्ष में 392 हिन्दू भारत आये थे, 2007 में आंकड़ा बढ़कर 880 हो गया था 2008 में संख्या 1240 थी जबकि 2009 के अगस्त तक 1000 हिन्दू वापस आ गए थे पाकिस्तान में हिंदुओं की हालत दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है।

FAQ

Q : 2023 में पाकिस्तान में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है?

Ans : 2% से भी कम

Q : बंटवारे के वक्त पाकिस्तान में कितने हिन्दू थे?

Ans : उस समय पाकिस्तान की आबादी लगभग 4 करोड़ थी, जिसमे हिंदी 13 प्रतिशत (52 लाख हिंदू थे) लेकिन आज के समय में मुसलमानो की आबादी 5 गुना हो गयी है जबकि हिंदू पहले से और भी कम (2%) हो गए हैं।

Q : पाकिस्तान में सबसे अमीर हिंदू कौन है?

Ans : दीपक परवानी, जिनकी कुल नेट वर्थ 71 करोड़ रुपये है, यह पाकिस्तान के फेमस फैशन डिजाइनर व अभिनेता हैं।

Q : पाकिस्तान में सबसे ज्यादा हिंदू कहां रहते हैं?

Ans : सिंध प्रांत में, चार जिले उमरकोट, थारपारकर, मीरपुरखास व संघर में पुरे पाकिस्तान के आधे से ज्यादा हिन्दू यहाँ निवास करते है।

अब तो आप समझ गए होंगे कि जनसँख्या और क्षेत्रफल के दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा शहर कौन हैइसके बारें में काफी अच्छी तरह से बताया गया है ताकि आप अच्छी तरह से समझ सकें।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडिया पर जरुर Share करे।

इसे भी पढे –

Sharing Is Caring:

Leave a Comment