Goldfish Ka Scientific Naam in Hindi | गोल्डफिश का साइंटिफिक नाम क्या है?

दोस्तों इस आर्टिकल में मैं आप लोगों को गोल्डफिश का साइंटिफिक नाम क्या होता है? इसकी जानकारी हम आपको देंगे गोल्डफिश का साइंटिफिक नाम Carassius Auratus है। गोल्डफिश एक प्रसिद्ध पालतू मछली है जिसको लोग बड़े शौक से अपने घरों में पालते हैं यह देखने में बहुत ही सुंदर और सुनहरी रंगों की होती है। 

गोल्ड फिश से संबंधित कई तरह के प्रश्न हमारे परीक्षा घरों के क्वेश्चन पेपर में पूछे जाते हैं तो मैं आपको गोल्डफिश संबंधित सारी जानकारियां बारी बारी से इस आर्टिकल में संक्षेप में दूंगा इसलिए आप लोगों से अनुरोध है कि इस आर्टिकल के अंतिम शब्द तक बने रहे।

Goldfish Ka Scientific Naam In Hindi

गोल्डफिश का क्या नाम है?

गोल्डफिश को हमारे हिंदी भाषा में सुनहरी मछली कहते हैं यह देखने में काफी सुंदर और सुनहरी रंगों से चमकती है। यह अक्सर शांत पानी या धीमी गति से चलने वाले मीठे पानी में पाए जाते हैं और इसके अलावा कई लोग इसको अपने घरों में शौक के लिए पालते हैं।

गोल्ड फिश का साइंटिफिक नाम क्या है?

 अक्सर हमारे परीक्षा के पेपरों में गोल्ड फिश का विज्ञानिक नाम क्या है यह प्रश्न आते हैं तो आइए मैं आप लोगों को इसका वैज्ञानिक नाम क्या होता है। गोल्डफिश का साइंटिफिक नाम “Carassius Auratus” होता है जिसे हिंदी में रासियस ऑराटस पढ़ा जाता है, इसे  हम लोगों के हिंदी भाषा में में “सुनहरी मछली कहते हैं। मैं आशा करता हूं कि आप लोगों को गोल्डफिश का साइंटिफिक नाम पता चल चुका होगा।

Goldfish का हिंदी नाम क्या है?

गोल्डफिश का हिंदी नाम क्या है यह मैं आप लोगों को बताता हूं गोल्ड फिश हिंदी के साधारण भाषा मैं सुनहरी मछली कहते हैं यह मछलियां सुनहरे रंग के अलावा और भी रंग की होती है। जैसे लाल सफेद नारंगी काला भूरा होते हैं। अगर आपके घरों में यह सारे रंग बिरंगी मछलियां मिलती है तो समझ ले या गोल्डफिश का ही एक जाती है।

Postal Ballot क्या है इसका उपयोग कैसे करें

Goldfish कहाँ पाई जाती है?

गोल्ड फिश चीन में भारी मात्रा में पाई जाने वाली मछली है इस मछली को पालने का काम सर्वप्रथम चीन ने किया था पूर्व एशिया की मूल निवासी या मछली है। गोल्ड फिश जंगलों के धीरे-धीरे बहाने वाली मीठे पानी पाई जाती है के अलावा अपनी जाति कार्प की तरह गंदे पानी में भी पाए जाते हैं।

Goldfish की लम्बाई कितनी होती है?

अगर गोल्डफिश की लंबाई की बात करें तो इनकी लंबाई जगह के हिसाब से बढ़ती है जैसे कि हम अगर इनको अपने घरों में टैंक या एक्वैरियम में रखे तो इनकी लंबाई 1 से 2 इंच होती है और कभी-कभी 6 इंच भी हो जाती है लेकिन जंगलों के तालाबों में जो मछली रहती है इसकी लंबाई 12 से 14 इंच तक पहुंच जाता है।

गोल्डफिश कितने प्रकार की होती है?

अगर गोल्ड फिश कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में बात करें तो इनकी कई प्रजातियां होती है तो आइए हम आपको इनके कुछ प्रजातियों के बारे में आपको बताते है।

  • American Shubunkins (अमेरिकन शुबंकिन्स)
  • Butterfly Tail (तितली पूंछ)
  • Comet (धूमकेतु)
  • Curled-Gill (कर्ल्ड-गिल)
  • Celestial Eye (दिव्य नेत्र)
  • Tosakin (टोसाकिन)
  • London Shubunkins (लंदन शुबंकिन्स)
  • Pearlscale (पर्लस्केल)
  • Ranchu (रैनचु)
  • Ryukin (रयुकिन
  • Moor
  • Nymph
  • Sabao (सबाओ)
  • Red Cap Oranda (रेड कैप ओरंडा)
  • Shukin (शुकिन)
  • Panda Telescope (पांडा टेलीस्कोप)
  • Veiltail (वील्टटेल)
  • Bubble Eye (बबल आई)
  • Watona (वाटोना)
  • Common (सामान्य गोल्डफिश)
  • Wakin (वाकिन)
  • Bristol Shubunkins (ब्रिस्टल शुबंकिन्स)

गोल्डफिश का पालन कैसे करें?

गोल्डफिश को पालने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना होगा क्योंकि आपके एक गलती से इसकी मौत भी हो सकती है। अगर आप इसके पालने के बारे में जानते हैं तो इसे आप आसानी से पाल सकते हैं और अच्छे से पालने से यह काफी दिनों तक जीवित रहती है तो आइए हम आपको गोल्डफिश का पालन कैसे करें इसकी जानकारी हम आपको स्टेप बाय स्टेप देते हैं।

  • गोल्डफिश को रखने के लिए एक टैंक या जार खरीदें।
  • टैंक को खरीदते समय इस बात की ध्यान में रखें कि टैंक के सतह क्षेत्र ज्यादा होनी चाहिए ताकि ऑक्सीजन आसानी से अवशोषित कर सके और साथ ही साथ मछली को तैरने के लिए काफी जगह होनी चाहिए।
  • टैंक को ऐसे जगह में रखें जहां पर इनडायरेक्ट धूप आनी चाहिए।
  • टैंक में रखे पानी को हमेशा बदलते रहे।
  • टैंक को रोज सफाई करें क्योंकि यह मछलियां बहुत ज्यादा गंदगी फैलाती है।
  • गोल्ड फिश अपने खाने से ज्यादा खाना खा लेती है इससे इनकी सेहत खराब हो सकती है इसलिए इनके खाने का खास ख्याल रखें।
  • जिस जगह में है गोल्ड फिश का टैंक को रखे हैं वहां पर किसी तरह का केमिकल छिड़काव ना करे।
  • अगर आपकी मछली के व्यवहार में कुछ अलग रूप देखने को मिल रहा है तो समझ ले वह बीमार है इस स्थिति में आप पशु चिकित्सा डॉक्टर से संपर्क करें।

यहाँ हमने एक Table के द्वारा आपको पालतू गोल्डफिश के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी है।

डीएमसी क्या है इसका फुल फॉर्म जानिए

विषयGoldfish का पालन
रहने का स्थानजार या टैंक
लम्बाईअधिकतम 6 इंच
उम्रऔसतन 6 से 10 साल
जल का तापमान68° से लेकर 74° फ़ारेनहाइट
PH रेंज7.0 से 8.5
भोजन, घोंगे,सलाद पत्ता मटर  गोभीपालक

Goldfish का खाना क्या है?

अगर आप गोल्ड फिश पालते हैं तो की जानकारी आपको चाहिए कि यह मछली क्या खाती है तो आइए हम आपको इस मछली को पालने के लिए क्या खाना देना पड़ता है इसकी जानकारी मैं आपको संक्षेप में देता हूं।

गोल्डफिश छोटे-छोटे कीड़े मकोड़े छोटे-छोटे पौधे एवं क्रस्टेशियंस को खाना बहुत ज्यादा पसंद करती है जो हमेशा खाती रहती है इसलिए यह लंबे समय तक बहुत कुछ खा सकती है। गोल्ड फिश का खान पीन उसके स्थान पर निर्भर करता है जब यह जंगलों के नदियों तालाबों में रहती है तो इनका मुख्य खाना शैवाल,कीट, लार्वा, मछली के अंडे, जल पिस्सू,  पौधे ,समुद्री झींगा, आदि शामिल हैं।

अगर आप गोल्डफिश को घर में पालते हैं तो यह सारी चीजें लाना बड़ा ही कठिन कार्य है। इसलिए इनको पालने के लिए इनके खाना-पीना के तौर पर आप यह सारी चीजें खिला सकते हैं जो निम्नलिखित है।

  • शैवाल
  • समुद्री झींगा
  • घोंगे
  • सलाद पत्ता
  • मटर
  • गोभी
  • पालक
  • कटी सब्जियां
  • वाणिज्य खाद्य छर्रों

उपयुक्त सारे भोजन घर में पाले जाने वाले गोल्ड फिश को खिला सकते हैं।

Goldfish कितना खाना खाती है?

गोल्ड फिश सारा दिन में कितना खाना खाती है अगर इसकी जानकारी चाहिए तो मैं आपको इस आर्टिकल में यह जानकारी प्रदान करूंगा गोल्ड फिश को अगर आप पाल रहे तो इसे सारा दिन में 3 से 4 बार ही भोजन दे क्योंकि ज्यादा भोजन देने से इनकी सेहत खराब हो सकती है।

गोल्डफिश का जीवन काल

गोल्ड फिश का जीवन काल के बारे में अगर बात करें तो यह लगभग 10 से 15 वर्ष का जीवनकाल होता है लेकिन कुछ ऐसी प्रजातियां भी है जिनका जीवन काल 30 वर्ष होता है लेकिन कुछ बातों का ध्यान भी रखना पड़ता है। जैसे इनकी देखभाल और भोजन में खास ख्याल रखना पड़ता है लेकिन अक्सर गोल्ड फिश अपने जीवन काल वर्ष तक नहीं पहुंच पाती है।

Goldfish के लिए पानी का तापमान कितना होना चाहिए?

गोल्ड फिश जिस पानी में रहती है उस पानी का तापमान कितना होना चाहिए इसकी जानकारी मैं आप लोगों को देता हूं अगर पानी के तापमान में बदलाव होते रहेंगे तो इनकी मौत भी हो जाती है इसलिए आप अगर गोल्डफिश गोपाल रहे हैं तो पानी के तापमान पर विशेष ध्यान रखें।

जिस पानी में हम इनको रखेंगे उस पानी का तापमान 68° फ़ारेनहाइट से लेकर 74° फ़ारेनहाइट तक होना चाहिए इस स्थिति में वह लंबे समय तक जीवित रह सकते हैं औरPH का मान 7.0 से 8.5 गोल्डफिश के लिए आदर्श माने जाते हैं।

Goldfish से जुड़े कुछ रोचक बातें

हमारे इस आर्टिकल में गोल्ड फिश से संबंधित सारी जानकारियां आपको मिल गई होगी फिर भी इनसे संबंधित कुछ रोचक तथ्य है जो मैं आप लोगों के सामने उजागर करूंगा तो दोस्तों आप लोग गोल्डफिश संबंधित रोचक बातें नीचे के लाइन में पढ़ें जो इस तरह के हैं।

  • गोल्ड फिश के पास पहचानने की क्षमता होती है।
  • गोल्डफिश को अगर लगातार खाना दे तो वह लगातार खाती रहेगी जोकि इसके लिए हानिकारक होता है।
  • गोल्ड फिश कई प्रकार के रंगों में होती है अभी के समय गोल्डफिश का रंग काला , लाल नारंगी, सफेद, भूरे, पीले रंगो के रूप में होती है।
  • अगर गोल्डफिश को 2 सप्ताह तक खाना पीने ना दे तब भी वह जीवित रह सकते हैं।
  • अगर गोल्डफिश का खयाल अच्छी तरह से रखा जाए तो यह 30 साल तक जीवित रह सकती है।
  • घरों में पाले जाने वाले गोल्डफिश क्या परीक्षा जंगलों के नदी और तालाबों में पाए जाने वाले गोल्डफिश का आकार बड़ा होता है।
  • गोल्डफिश का गिनती सर्वाहारी मैं होता है जो कीड़े मकोड़े के साथ-साथ पेड़ पौधा भी खाती है।
  • कई बार ऐसा पाया गया है कि गोल्डफिश जो अपने बच्चों को जन्म देती है वह अपने बच्चों को ही खा जाती है।
  • गोल्डफिश को पालने का कार्य सबसे पहले चीन से शुरुआत हुआ था।

FAQ

Q : गोल्डफिश का वैज्ञानिक नाम क्या है?

Ans : Carassius Auratus

Q : गोल्डफिश को हिंदी में क्या कहते है?

Ans : सुनहरी मछली

Q : गोल्डफिश की आयु कितने वर्ष होती है?

Ans : 10 से 15 वर्ष के बीच

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा। अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडिया पर जरुर Share करे।

Related Posts :-

Sharing Is Caring:

Leave a Comment