Scalping Trading Meaning in Hindi | स्कैल्पिंग ट्रेडिंग क्या है व कैसे करें?

Scalping Trading Meaning in Hindi : यहाँ इस पोस्ट के माध्यमस से आपको बताएँगे की स्कैल्पिंग ट्रेडिंग क्या है व कैसे करें? अगर आप शेयर मार्केट में है और ऑप्शन ट्रेडिंग में दिल्चस्बी है तो आपको स्कैल्पिंग ट्रेडिंग के बारे में पता होना चाहिए।

WhatsApp Group Join Now

शेयर मार्केट में अगर आप पैसे निवेश कर रहे हैं तो आपको सबसे पहले शेयर मार्केट के बारे में जानकारी होना आवश्यक है और शेयर मार्केट से पैसे कमाने के शेयर ट्रेडिंग करना आवश्यक है और ट्रेडिंग कई प्रकार के होती है।

ऐसे में आप अगर शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते हैं तो आप लोगों Scalping Trading नाम जरुर सुना होगा | ऐसे में जो लोग नए हैं उनको अगर मालूम नहीं है कि स्काल्पिंग ट्रेडिंग क्या होती है?, स्काल्पिंग ट्रेडिंग कैसे करते हैं? और इससे पैसे कैसे कमाए? ऐसे में अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं।

तो आज के आर्टिकल में स्काल्पिंग ट्रेडिंग के बारे में Beginner से Advance लेवल तक (Scalping Trading Meaning in Hindi) की पूरी जानकारी आपको उपलब्ध करवाएंगे जिसे जानने के बाद आप आसानी से स्काल्पिंग ट्रेडिंग कर पाएंगे।

Scalping Trading Meaning in Hindi

स्कैल्पिंग ट्रेडिंग क्या है?

स्काल्पिंग ट्रेडिंग ऐसी ट्रेडिंग जिसमें ट्रेडिंग करने वाला व्यक्ति छोटे समय के लिए share के दाम बढ़ने से कम समय में प्रॉफिट कमाता है हम आपको बता दे कि इस प्रकार के ट्रेडिंग मे  शेयर को अधिक समय तक आप होल्ड नहीं कर सकते हैं बल्कि आपको एक से 2 मिनट के अंदर आपको शेयर को बेचकर मार्केट से बाहर निकल जाना है। 

हम आपको बता दें कि इस प्रकार के ट्रेडिंग से आप काफी अधिक पैसा कमा सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको बहुत ज्यादा एक्टिव रहने की जरूरत है क्योंकि इसमें आपको पैसे कमाने के लिए बहुत ही कम समय मिलता है और अगर आप यहां पर थोड़ा सा भी लापरवाह होते हैं तो आपको नुकसान का भी सामना करना पड़ सकता है।

इसलिए इस प्रकार की ट्रेडिंग वालों करते हैं जो शेयर मार्केट के बारे में व्यापक जानकारी और अनुभव रखते हैं।

स्कैल्प ट्रेडिंग का मलतब – Scalping Trading Meaning in Hindi

स्कैल्प ट्रेडिंग का मतलब है छोटे समय के अंदर आपको ट्रेडिंग करनी है इसमें कुछ घंटे या कुछ दिनों का इंतजार नहीं बल्कि आपको एक या दो मिनट के अंदर अपने शेयर को बेचकर मुनाफा कमाना होता है क्योंकि इसमें मुनाफे कमाने की जो समय अवधि है वह काफी कम होती है | शेयर मार्केट में जो लोग स्कैल्प ट्रेडिंग करते हैं उन्हें Scalpers कहा जाता है।

शेयर मार्केट में स्काल्पिंग क्या है?

शेयर मार्केट के प्रकार के ट्रेडिंग में जैसे ही शेर के दामों में थोड़ी सी भी आपको बढ़ोतरी दिखाई दे तो आप तुरंत भेज कर मार्केट से बाहर निकल जाए क्योंकि इस प्रकार के ट्रेडिंग में काफी कम समय में अधिक मुनाफा कमाया जाता है।

हम आपको बता दे की शेयर बाजार में ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो स्कैल्प ट्रेडिंग कर कर कम समय में अधिक पैसा कमा रहे हैं क्योंकि यहां पर अधिक क्वांटिटी के साथ लोग ट्रेडिंग करते हैं और उसे पैसे कमाते हैं।

स्कैल्प ट्रेडिंग का उदाहरण – Example of Scalping Trading in Hindi)

आप स्कैल्प ट्रेडिंग के द्वारा पैसे कैसे कमाएंगे उदाहरण के लिए मान लीजिए कि आपने बैंकनिफ्टी के किसी स्ट्राइक प्राइस के कॉल ऑप्शन का प्रीमियम ₹250 के दम से शेयर बाजार में ऊपर जा रहा है तो ऐसे में आप इस शेर को खरीद लेंगे।

हम आपको बता दे कि यहां पर शेयर करने की एक Loat होती है ऐसे में आप को यहां पर एक लोट खरीदने के लिए( 200× 15 ) ₹3000 का आपको निवेश करना होगा और जैसे ही अपने यहां पर जो शेयर खरीदा है उसकी कीमत ₹250 हो जाती है तो आप उसे तुरंत  भेज देता है ऐसे में उसे 15× 250)  ₹3000 का मुनाफा कमा सकते हैं यानी अपने यहां पर जो पैसा लगाया था उसका दुगना फायदा आपको यहां पर होगा।

स्कैल्प ट्रेडिंग कैसे काम करती है?

जो व्यक्ति कम समय के लिए ट्रेडिंग करते हैं वे लोग विशेष तौर पर स्कैल्प ट्रेडिंग ही करते हैं इसमें आप काफी कम समय में पैसा कमा सकते हैं लेकिन इस प्रकार के ट्रेडिंग को करने के लिए आपको कुछ सख्त अनुशासन और कुछ ऐसे नियम है।

जिसे आपको अनुसरण करना होगा तभी जाकर आप स्काल्पिंग ट्रेडिंग में अपना पैसा मुनाफे के तौर पर प्राप्त कर पाएंगे।

स्काल्पिंग ट्रेडिंग कैसे करें?

स्काल्पिंग करने के लिए आपको टेक्निकल चार्ट का इस्तेमाल करना होगा इसमें आप 5 मिनट के समय  पर चार्ट को होल्ड करके रखेंगे ताकि आप उसे अवधि के दौरान अपना मुनाफा कमा कर बाजार से निकल जाए।

हम आपको बता दे की जैसा कि आप लोगों को मालूम है कि इसमें शर्ट अवधि के अंतर्गत पैसे कमाए जाते हैं तो आपको यहां पर कैंडल स्टिक का इस्तेमाल 15 मिनट के लिए करना होगा तभी जाकर आप यहां पर तगड़ा मुनाफा कमा पाएंगे।

स्कैल्प ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाएं

स्कैल्प एंड ट्रेडिंग के द्वारा पैसे कैसे कमाएंगे उसके बारे में नहीं जानते हैं तो हम उसका पूरा विवरण आपको उदाहरण के माध्यम से समझाएंगे।

  • सबसे पहले आपको अपना चार्ट ओपन करना होगा जिसमें आप ट्रेंडिंग करना चाहते हैं उधर के लिए अगर आप नियुक्ति में ट्रेडिंग करते हैं तो आपको नियुक्ति का चार्ट ओपन करना होगा और फिर आप अपना ट्रेडिंग करना शुरू करेंगे।
  • हम आपको बता दें कि आप चार्ट का इस्तेमाल  करने के लिए radingview वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं।
  • चार्ट ओपन होने के बाद आपको 5 मिनट का यहां पर समय अवधि चयन करना होगा
  • इसके बाद MACD indicator  लगाएंगे।।
  • अब आप अपने चार्ट को यहां पर थोड़े समय के लिए देखते रहेंगे।
  • जैसे ही आपने जो इंडिकेटर इस्तेमाल किया है उसके माध्यम से सिंगल लाइन को ऊपर की तरफ आप जब करते हुए देखेंगे तो आपको शेयर को खरीद लेना है।
  • इसके बाद आप लगातार आपने जो शेयर खरीदा है उसके दामों पर आप अपनी नजर बनाए रखेंगे जैसे ही इंडिकेटर आपको इस बात का संकेत दे रहा है की लाइन नीचे की तरफ जा रही है तो आप तुरंत उस Share को बेच दे।
  • इस तरीके से आप यहां पर मुनाफा कमा सकते हैं।

स्काल्पिंग ट्रेडिंग कैसे सीखें? – How to Learn Scalping Trading

आज के समय आप यूट्यूब या शेयर मार्केट संबंधित किताबों के द्वारा भी आप  स्काल्पिंग ट्रेडिंग सीख सकते हैं इसके लिए आपको एक भी पैसा अपनी जेब से जीने की जरूरत नहीं है हम आपको बता दें कि अगर आप इस ट्रेडिंग को निमित्त रूप से प्रैक्टिस करते हैं।

तो आप  स्काल्पिंग ट्रेडिंग को अच्छी तरह से सीख सकेंगे इसके लिए Moneybhai जैसे बाजू वाले ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर सकते हैं यहां पर आप इस ट्रेडिंग का नियमित रूप से प्रैक्टिस करेंगे यहां पर कोई भी असली पैसे आपको लगाने की जरूरत नहीं है।

बल्कि आप वर्चुअल तरीके से यहां पर इसका ट्रेडिंग करेंगे तो आपको इस प्रकार के ट्रेडिंग को सिखाने में मदद मिलेगी हम आपको बता दें कि इस प्रकार के ट्रेडिंग को सीखने के लिए कुछ विशेष प्रकार के इंडिकेटर आते हैं जिसे आपको अच्छी तरह से सीखना होगा उदाहरण के लिए moving averages, Bollinger Bands या Relative Strength Index (RSI) आदि।

स्कैल्पिंग ट्रेडिंग के फायदे (Advantages of Scalping Trading in Hindi)

  • इस प्रकार के Trading में आप काफी कम समय में अधिक मुनाफा कमा सकते हैं।
  • आप इस प्रकार के ट्रेडिंग में ज्यादा क्वांटिटी में आप ट्रेडिंग कर सकते हैं ऐसे में मुनाफा भी आपको अधिक होगा।
  • स्काल्पिंग ट्रेडिंग में जोखिम कम होता है।
  • यहां पर आपको तत्काल में मुनाफा प्राप्त होता है।

स्कैल्पिंग ट्रेडिंग के नुकसान (Disadvantages of Scalping Trading in Hindi)

  • कई लोग लालच में आकर यहां पर अधिक समय तक ट्रेडिंग करने के बारे में सोचते हैं जो उनके लिए नुकसानदायक साबित होता है।
  • कई बार देखा जाता है कि लोग यहां पर लंबे समय अवधि का चयन करते हैं जिसके कारण उन्हें नुकसान होता है।
  • स्काल्पिंग ट्रेडिंग  ऐसे share में करनी चाहिए जिसकी लिक्विड ज्यादा उदाहरण के लिए आप nifty 50 या nifty next50 stocks में ट्रेड कर सकते हैं।
  • इस प्रकार के ट्रेडिंग को करते समय आप जोखिम संबंधित जितने भी आवश्यक के नियम और शर्ते हैं उसका अच्छी तरह से अनुसरण करें तभी जाकर आपको नुकसान नहीं होगा।

FAQ

Q : स्कैल्पिंग ट्रेडिंग करने के बेस्ट ट्रिक्स कौन सा है?

Ans : अगर आप स्कैल्पिंग ट्रेडिंग करने के सबसे बढ़िया ट्रिक आप स्कैल्पिंग 10:15AM से 12PM तक और 2PM से 3PM के बिच कर सकते है इस समय पर मार्केट में ज्यादा तेजी रहती है।

Q : स्कैल्पिंग ट्रेडिंग के लिए कौन सा टाइम फ्रेम उपयोग करना चाहिए?

Ans : स्काल्पिंग ट्रेडिंग के 3 मिनट व 5 मिनट का बेस्ट टाइम फ्रेम माना जाता है।

Conclusion :-

आज के इस आर्टिकल में मैंने आपको स्कैल्पिंग ट्रेडिंग क्या है व कैसे करें? इससे जुड़ी तमाम जानकारियां दी हैअगर आपको हमारा आज कहीं आर्टिकल पसंद आया है, इसे अपने व्हाट्सएप ग्रुप पर शेयर करना है, ताकि आपके दोस्तों को भी Scalping Trading Meaning in Hindi के बारे में पता चल सके।

Related Articles :-

Sharing Is Caring:

Leave a Comment