Net Profit Meaning in Hindi | Net Profit (शुद्ध लाभ) क्या है?

Net Profit Meaning in Hindi : हेलो दोस्तों तो कैसे हैं आप सब आशा करता हूं कि आप सभी अच्छे होंगे तो आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे नेट प्रॉफिट मीनिंग इन हिंदी की नेट प्रॉफिट का हिंदी में क्या मतलब होता है, इसके बारे में मैं आपको विस्तार से आज के इस आर्टिकल में जानकारी देने वाला हूं। अगर आपको भी नेट प्रॉफिट का मतलब नहीं पता है, और आप नेट प्रॉफिट का मतलब जानना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को आखिर तक अवश्य पढ़ें।

WhatsApp Group Join Now

जैसे कि हम कई बार फाइनेंशियल मार्केट में कुछ लेनदेन करते हैं तब हमारे कानों में Profit-Loss, Tax, Gross Profit जैसे कई सारे शब्द सुनाई पड़ते हैं। इन सभी शब्दों में से एक शब्द नेट प्रॉफिट भी है, नेट प्रॉफिट हमें कई सारी जगह पर सुनने को मिलता है। फिर चाहे वह आपके द्वारा खरीदे गए किसी समाज का बिल हो या फिर किसी फिल्म का BOC या फिर किसी कंपनी का बैलेंस शीट हो।

नेट प्रॉफिट का नाम अक्सर हमारे सामने आ ही जाता है, अगर आप कभी भी शेयर बाजार का कार्य करते हैं या फिर किसी भी छोटे-मोटे बिजनेस से तालुकात रखते हैं, तो इस शब्द का प्रयोग आपके आसपास होता ही रहेगा। अगर आप ट्रेडिंग करते हैं तो भी आपको यह सब देखने को मिलेगा।

तो चलिए दोस्तों अब ज्यादा इधर-उधर की बातें ना करते हुए नेट प्रॉफिट मीनिंग इन हिंदी के बारे में जानते और दोस्तों इस आर्टिकल में मैं आपको नेट प्रॉफिट से जोड़ी हर वह तमाम जानकारी दूंगा जो आपके लिए आवश्यक है, तो आप हमारे इस आर्टिकल को अधूरा ने छोटे इसे आखिर तक अवश्य पढ़ें।

Net Profit Meaning in Hindi

Net Profit Meaning in Hindi – नेट प्रॉफिट का मतलब क्या है?

अगर दोस्तों हम नेट प्रॉफिट का हिंदी में अनुवाद करें तो इसका मतलब शुद्ध लाभ होता है। जब कोई व्यक्ति व्यापार करता है, चाहे वह व्यापार कोई भी चीज का हो उसके अंदर टैक्स वगैरा और उस सम्मान में लगने वाली लागत को काटकर जो प्रॉफिट मालिक को बचता है उसे हम नेट प्रॉफिट के नाम से जानते हैं।

Net Profit Meaning in Hindiशुद्ध लाभ

अगर दोस्तों आपको अब भी नेट प्रॉफिट क्या होता है यह समझ नहीं आया है, तो चलिए मैं आपको एक छोटा सा उदाहरण देकर समझाता हूं। मान लीजिए एक व्यक्ति है रितेश और वह अपना एक बिजनेस चला रहा है उसे बिजनेस के अंदर वह कुछ टेक्नोलॉजी की चीज बनता है।

लेकिन रितेश को इन टेक्नोलॉजी चीज बनाने के लिए कुछ आवश्यक सामग्री और और टेक्नोलॉजी में प्रयोग होने वाली कुछ आवश्यक चीज खरीदनी होती है, वह उस चीज को खरीद कर अपना एक अच्छा टेक्नोलॉजिकल चीज बनाता है और उसे मार्केट में लांच करता है, मार्केट में लॉन्च करने के पश्चात उसे कुछ टैक्स का सामना भी करना पड़ता है थोड़ा बहुत टैक्स भरने के बाद रितेश के पास जो प्रॉफिट बचेगा उस प्रॉफिट को हम नेट प्रॉफिट कहते हैं।

नेट प्रॉफिट कैसे निकालते हैं? – शुद्ध लाभ फॉर्मूला

दोस्तों नेट प्रॉफिट निकालना कोई मुश्किल भरा कार्य नहीं है, एएसपी इसे आसानी से निकाल सकते हैं। अगर आपने ऊपर दिया गया आर्टिकल थोड़ा सा भी ध्यान से पढ़ा होगा तो आपको यह समझ में तो आ गया होगा कि नेट प्रॉफिट कैसे निकालते हैं चलो मैं आपको थोड़ा अच्छे से बता देता हूं कि नेट प्रॉफिट कैसे निकालते हैं।

नेट प्रॉफिट निकालने का एक फार्मूला है जो कि कुछ इस प्रकार है।

Total Income – Total Expenses = Net Profit

दोस्तों यह फॉर्मूला नेट प्रॉफिट निकालने का फार्मूला है इस फार्मूले का प्रयोग करके आप बड़ी ही आसानी से अपना नेट प्रॉफिट यानी शुद्ध लाभ निकाल सकते हैं।

कंपनी की Total Income किसे कहते है?

दोस्तों अगर हम कंपनी के टोटल इनकम की बात करें तो कंपनी की टोटल इनकम उसकी कल की गई कमाई होती है। इसका भी फार्मूला काफी साधारण है।

Revenue/Sales + Other Income = Total Income

  • दोस्तों ऊपर दिए गए फार्मूले की सहायता से आप किसी भी कंपनी का टोटल इनकम पता लगा सकते हैं, जो भी कंपनी हो फिर चाहे वह कोई भी काम कर रही हो अगर उस काम में कंपनी को लाभ प्राप्त हो रहा है, तो और कंपनी की इनकम में बढ़ोतरी होती है तो उसकी कुल की गई कमाई को हम कंपनी के टोटल इनकम कहते हैं।
  • कंपनी जब अपना कोई भी प्रोडक्ट तैयार कर कर उसे भेजती है, या फिर किसी भी प्रकार की सर्विस मुहैया करवाकर पैसा कम आती है तो इसे हम रिवेन्यू ऑफ सेल का नाम देते हैं।
  • अगर रिवेन्यू को छोड़कर कंपनी किसी और जरिए से पैसा कमा रही है, तो उसे हम अदर इनकम का नाम देते हैं।

कंपनी के Total Expenses क्या हैं?

दोस्तों मैं आपको यह भी बता दूंगी Total Expenses निकलने का भी एक फार्मूला होता है, जो कि कुछ इस प्रकार है।

Total Expenses = Cost of Goods/ Services + Interest + Operating Expenses + Depreciation Cost + Any Other Expenses + Tax

  • आप कोई भी प्रोडक्ट बना रहे हो या किसी भी प्रकार की सर्विस दे रहे हो उस प्रोडक्ट या सर्विस में कितना खर्चा आता उसी खर्चे को Cost of Goods सर्विस के नाम से जाना जाता है।
  • अगर आप एक कंपनी चला रहे हैं, और उसे कंपनी पर किसी भी प्रकार का कर्जा है तो उसको इसका ब्याज देना पड़ेगा इसे हम इंटरेस्ट के नाम से जानते हैं।
  • आप एक कंपनी चला रहे हैं और आप जिस प्रोडक्ट का निर्माण आपकी कंपनी में कर रहे हैं, और उस प्रोडक्ट को बनाने के लिए आपको उससे जुड़े कुछ सामान की आवश्यकता पड़ती है जैसे जमीन का किराया Advertisement, Employee’s Salary, Insurance आदि।
  • आपकी कंपनी में अगर कोई भी उपकरण खराब हो जाता है, तो उसे ठीक कराने में जो धनराशि खर्च होती है उसे Depreciation Cost कहते हैं।
  • आपकी कंपनी को जो भी नेट प्रॉफिट होय है उसमें से कुछ धनराशि आप सरकार को देते हैं उसे टैक्स कहते हैं।
  • इसके अलावा कंपनी के अंदर बहुत सारे ऐसे काम होते हैं, जिनके अंदर पैसे खर्च होते रहते हैं, उन्हें हम Other Expenses कहते हैं।

Profit After Tax और Profit Before Tax क्या हैं?

Profit After Tax:- कंपनी का टोटल मिलाकर जो भी खर्च होता है, उसे जब हम कंपनी की टोटल कमाई से माइनस कर देते हैं, तो नेट प्रॉफिट निकल आता है इसी को ही हम Profit After Tax के नाम से जानते हैं। अगर हम सही शब्दों में बात करें तो नेट प्रॉफिट को ही प्रॉफिट आफ्टर टैक्स के नाम से जाना जाता है।

Profit Before Tax:- टैक्स में अगर कंपनी के Total Expenses  को ना जोड़ा जाए तो उसके पश्चात जितने भी खर्च सामने निकल कर आएंगे। उसे हम कंपनी के टोटल इनकम से माइनस कर देंगे। तब जो प्रॉफिट आएगा उसे हम Profit Before Tax का नाम देंगे।

Gain क्या होता है? (What is Gain in Hindi)

पूंजीगत लाभ को ही हम कैपिटल गेन कहते हैं कोई भी कैपिटल एस्ट की वैल्यू में जब बढ़ोतरी होती है तो जब बेस्ट को बेच दिया जाता है, तब ही उसकी प्राप्ति मानी जाती है, कैपिटल गैन 1 वर्ष से कम और 1 वर्ष से अधिक का भी हो सकता है, इस कैपिटल गेन को हमें इनकम टैक्स में क्लेम करना चाहिए।

किसी वैल्यू में हुई कमी या वृद्धि के रूप मे गेन को उल्लेखित या परिभाषित किया जाता है। लेकिन उस कैपिटल गेन को टैक्स योग्य नहीं समझा जाता इस कैपिटल में हमें तब नुकसान होता है। जब किसी एजेंट को खरीदने से जीता जा सके और उसकी जो कीमत होती है उसकी तुलना में कैपिटल एक्सेंट की वैल्यू में गिरावट आ सके।

FAQ

Q : नेट प्रॉफिट का मतलब क्या होता है?

Ans : ‘शुद्ध लाभ’

Q : नेट प्रॉफिट कैसे निकालते हैं?

Ans : नेट प्रॉफिट निकालने का बेस्ट फार्मूला, Total Income – Total Expenses = Net Profit

Conclusion :-

आज के इस आर्टिकल में मैंने Net Profit Meaning in Hindi से जुड़ी तमाम जानकारियों से अवगत करवाया और मैंने आपको नेट प्रॉफिट क्या होता है, इसके बारे में विस्तार से समझाया और नेट प्रॉफिट से जुड़े कुछ पार्ट से भी मैंने आपको अवगत कराया तो मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा आज का ही आर्टिकल अवश्य ही पसंद आया हो हमारे इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद

अगर आपको हमारा आज कई आर्टिकल पसंद आया है तो इसे लाइक शेयर कमेंट अवश्य करें और इसे अपनी सोशल मीडिया साइट व्हाट्सएप ग्रुप पर अवश्य शेयर करें ताकि आपके दोस्तों को भी नेट प्रॉफिट क्या होता है, इसके बारे में पता चल सके और अगर आपको हमारे इस आर्टिकल में कोई कमी नजर आए तो हमें कमेंट सेक्शन में आप अवश्य बताएं हम आपके कमेंट का जल्द से जल्द रिप्लाई करेंगे।

Related Articles :-

Sharing Is Caring:

Leave a Comment